Share

पोर्न फिल्म देखकर मासूम भांजी की लूटी अस्मत और दे दी मौत

सागर- दुनिया को मुट्ठी में रखने वाला इंटरनेट लोगों के मस्तिष्क में बहसीपन भी सवार कर रहा है। जी हां, तीन दिन पहले सागर से तकरीबन 30-32 किलोमीटर आपचंद गांव में इंटरनेट पर पॉर्न फिल्म देखने के बाद हवस के पागलपन में आकर रिश्ते के मामा ने अपनी 13 वर्ष की भांजी को कहीं का नहीं छोड़ा। घटना के बाद पकड़े जाने के डर से 24 वर्षीय वीरेन्द्र ने मासूम बच्ची को मौत के घाट उतार दिया। पुलिस को गुमराह करने के बाद आखिर आरोपी पुलिस की सख्ती नहीं झेल पाया और जुर्म कबूल कर लिया। प्रदेश सरकार की सख्ती और निगरानी के बाबजूद भी महिलाओं पर शोषण और दुराचार के मामले रूकने का नाम नहीं ले रहे हैं। कुछ समय पहले प्रदेश सरकार ने मध्यप्रदेश में तकरीबन 29 पोर्न साइड पर बैन किया था। तत्कालीन गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कई दफा इन साइडों से होने वाले नुकसानों पर दुख जताया था। बाबजूद इसके घटनाऐं बढ़ रही हैं। बीते माह सागर जिले के बंडा से रिश्तों को तार-तार करने वाला मामला सामने आया था। जहां तीन सगे भाईयों ने चाचा के साथ मिलकर 13 साल की मासूम की अस्मत तार-तार की और राज खुलने के डर से गला काटकर कुत्तों को शरीर नोच-नोच कर खाने खेत मे फेक दिया था। इसी तरह का मामला ठीक एक माह बाद 7 अप्रैल को सामने आया जहां एक 13 वर्ष की मासूम की असमत को उसके मुंह वोले मामा ने तार-तार कर दिया और लड़की के इस घटना की जानकारी पुलिस और परिजनों को बताने की बात कहने पर गला घोटकर मासूम को दर्दनाक मौत दे दी।

यह था मामला
सागर एसपी अमित सांघी ने मंगलवार की दोपहर बताया कि 7 अप्रैल को आपचंद के परान नाला के पास एक बालिका के शव पड़े होने की सूचना पर क्षेत्र में सनसनी फैल गई। थाना प्रभारी स्टाफ के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। मर्ग कायम कर पुलिस ने बलात्कार और हत्या का मामला पंजीबद्ध कर लिया। एसपी सागर ने बताया 6 अप्रैल को बालिका अपनी दादी के साथ किसी कार्यक्रम में शामिल होने आपचंद गई थी। जहां से 7 अप्रैल को रिश्ते का मामा साईकिल पर बालिका को बिठाकर घर छोडऩे का कहकर ले गया। लड़की के रात तक घर नहीं पहुंचने से परेशान माता-पिता ने खोज बीन शुरू की। परान नाले के पास बालिका का अर्धनग्न शव मिला। दादी ने रिश्ते के मामा पर संदेह जताया। पुलिस टीम ने दो दिन बाद आरोपी को आपचंद गांव से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि आरोपी वीरेन्द्र पिता निरपत आदिवासी (24) ने पूछतांछ मे पुलिस के समक्ष जुर्म स्वीकार कर लिया। आरोपी ने पुलिस को बताया कि घटना के 1 दिन पहले मोबाइल पर पोर्न फिल्म देखी और दूसरे दिन इस घटना हुई।
पुलिस टीम में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विक्रम सिंह, एसडीओपी रहली अनुराग पांडे, थाना प्रभारी चंदन सिंह, एसएस मिश्रा, लक्ष्मण प्रसाद शामिल रहे।

Spread the love

Leave a Comment