Share

सागर लोकसभा से ‘प्रभु’ करेंगे कांग्रेस का बेड़ा पार

सागर- कांग्रेस ने अपनी लोकसभा प्रत्याशियों की एक और सूची जारी कर दी है जिसमें सागर लोकसभा से पूर्व मंत्री प्रभू सिंह को सागर लोकसभा से प्रत्याशी बनाया गया है। हालांकि ये घोषणा महज़ औपचारिक्ता भी कही जा सकती है, क्योंकि जहां बीजेपी में कई नामों पर मंथन हो रहा है वहीं कांग्रेस से प्रभु सिंह का नाम पहले से ही तय माना जा रहा था। मूलतः सागर के बीना में रहने वाले प्रभुसिंह ठाकुर 1983 से 1990 तक जनपद अध्यक्ष रहे, 1993 में बीना विधानसभा सीट से सुधाकर वापट को चुनाव हराकर विधानसभा पहुंचे, 1993 से 1998 तक विधायक बने रहे, जबकि 1998 में उन्हे दिग्विजय सरकार में राज्यमंत्री बनाया गया। फिर 2003 में एक बार फिर विधायक का चुनाव लड़े लेकिन चुनाव जीत नहीं सके। वर्तमान में वे मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी में महासचिव हैं। उनके समर्थक उन्हें प्यार से दाऊ के नाम से भी पुकारते हैं।

लोकसभा चुनाव 2019 में शुरुवात से ही सागर से दावेदारी कर रहे प्रभु सिंह ने क्षेत्र में अपनी सक्रियता बढ़ा दी थी, कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेंटी में उनका नाम सबसे उपर था, जिसके बाद उनके नाम पर लगभग सभी की सहमती और अनौपचारिक घोषणा हो चुकी थी। इस दौरान उन्होने सागर के मकरोनिया में कुछ समर्थकों के साथ वार्ड में साइकिल रैली निकारकर जनसंपर्क किया था। गौरतलब है कि सागर लोकसभा में कुल आठ विधानसभा सीटें हैं, जिनमें सागर ज़िले की 5 सीटें सागर, बीना, खुरई, सुरखी, नरयावली जबकि विदिशा ज़िले की तीन सीटें कुरवाई, सिंरोज और शमशाबाद शामिल हैं। जबकि इन आठ विधानसभा सीटों में से 7 पर बीजेपी काबिज़ है जबकि केवल एक विधानसभा सीट, सुरखी से कांग्रेस नेता गोविंद सिंह विधायक हैं। वहीं पिछले 6 बार से सागर संसदीय सीट पर बीजेपी का कब्ज़ा है, वर्तमान में बीजेपी के लक्ष्मीनारायण यादव सागर से सांसद हैं।

Spread the love

Leave a Comment