Share

प्रधानमंत्री आवास योजना का नही मिल रहा लाभ ग्रामीण परेशान

सागर- जिले के गढ़ाकोटा तहसील के ग्राम घोघरा मे भारत सरकार की योजनाओं का लाभ ग्राम वासियों के लिए लाभ नहीं मिल रहा है देश के प्रधानमन्त्री द्वारा आवास योजना तो चलाई जा रही है पर इस योजना का लाभ ग्राम वासियों को नहीं मिल पा रहा है भारत सरकार के द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ गरीब, पिछडा वर्ग, वंचित लोगों के लिए ही बनाई गई है पर रहली विधानसभा के गढ़ाकोटा तहसील के ग्राम घोघरा में इस योजना का लाभ नहीं मिल रहा है साथ ही अन्य किसी भी प्रकार की योजनाओं का लाभ भी ग्रामीणों को नहीं मिल पा रहा है ग्रामीण चेतराम पिता दयाली रैकवार व उसकी पत्नी तुलसा वाई जो परिवार में 5 सदस्य हैं ने बताया कि वह मजदूरी करके अपना जीवन यापन कर रहे हैं उसकी झोपडी़ है ओर वर्षाती से वनी हुई है। दिल्ली में नक्शा नहीं बताए जाने के कारण सर्वे के अंतर्गत नहीं दिखाया जा रहा है ग्रामोणो का आरोप है कि पंचायत सचिव व सरपंच की लापरवाही से पूरे गांव को योजना का लाभ नहीं ले पा रहे हैं ग्रामीणों ने बताया की हमारे गांव में बहुत ज्यादा गरीब परिवार रहते हैं जैसे कि सुरेंद्र लोधी पिता रंजीत सिंह लोधी 3 वर्ष पहले इनका मकान बरसात के समय गिर गया और आज भी वह किराए के मकान में रह रहे हैं और 2 वर्ष पहले वीरन लोधी का मकान भी घर गिर गया था और वह भी गांव में झोपड़ी बनाकर रह रहा हैं कई घर तो ऐसे हैं जिसमें बरसाती छाई हुई है और टटिया बांधकर रह रहे हैं तुलसा बाई ने बताया कि शासन की योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है यहां के सरपंच सचिव के पास कई बार जाने के बावजूद भी इसका लाभ नहीं दिला पा रहे हैं हमने 1 वर्ष पहले फाार्म भरा था लेकिन हमे लाभ नहीं मिला भारत सरकार लगातार प्रयास कर रही है कि गरीब, मजदूर,वेवस, असहाय लोगों को इस योजना का लाभ मिले पर सरकार की मंशा पर सरकारी तंत्र पानी फेर रहे हैं । प्रश्न यह उठता है कि लापरवाही किसी ने की ओर नुकसान ग्रामीणों का हुआ आखिर अब गांव वाले इसके लिए किसके यहां जाएं इस मामले में ग्रामीणो ने बताया कि हम लोगों क्षेत्रीय विधायक के पास भी गये थे पर वो भी किसी भी प्रकार का निराकरण नहीं कर पाये हम लोगों इस मामले में हर जगह जा चुके हैं लेकिन हर जगह यही कहा जाता हैं कि योजना का लाभ जल्द से जल्द आप लोगों के लिए मिलेगा अब देखना है कि ग्रामीणों को इस योजना का कैसे मिलता है। इस गांव के ग्रामीण ज्यादातर किसानों के यहां मजदूरी करने के लिए जाते हैं ओर किसानो की खेती की रखवारी करते हैं ओर मजदूरी कर जीवन यापन करते हैं लेकिन सरपंच व सचिव की लापरवाही की वजह से ग्राम वासियों के लिए योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है और पूरे गांव में एक भी प्रधानमंत्री आवास का निर्माण नहीं किया गया है।

Spread the love

Leave a Comment