Share
लाश को घुमाया कस्बे में, किया प्रदर्शन चक्काजाम

लाश को घुमाया कस्बे में, किया प्रदर्शन चक्काजाम

सागर /शाहगढ़ – एमपी के ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य व्यवस्था बदहाली के दौर में पहुँच गई है। डॉक्टर तो छोड़िए नर्से और अन्य स्टाफ भी नहीं मिलता। एमपी के सागर जिले के शाहगढ़ में स्वास्थ्य केंद्र की अव्यवस्थाओं के चलते एक शख्स की मौत हो गई। नाराज लोगों ने अस्पताल के बाहर लाश रखकर चक्काजाम कर दिया।
दरअसल जिले के शाहगढ़ वार्ड नं 13 छोटी माता के पास रहने वाले बुजुर्ग मनमोहन रैकवार सुबह नहाते समय घर गिर पड़े। उनको शाहगढ़ स्वास्थ्य केंद्र लेकर आये तो अस्पताल में कोई भी डॉक्टर नहीं मिला। कोई नर्स भी नहीं थी। करीब एक घंटे तक इंतजार के बाद मनमोहन की अस्पताल के दरवाजे पर ही मौत हो गई। अस्पताल के रोस्टर में वाकायदा ड्यूटी रहती है पर डॉक्टर समय पर नहीं पहुँचते। यही हाल नर्स और अन्य स्टाफ का है। इस दौरान परिजनों ने डॉक्टर को फोन भी लगाए लेकिन उठा नहीं परिजनों के मुताबिक डॉक्टर की लापरवाही के कारण मौत हो गई। इस घटना से लोगों में भारी आकोश देखने को मिला। जब तक डॉक्टर को हटाया नहीं जाता तब तक इस लाश को यहाँ से नहीं ले जायँगे। करीब पाँच घण्टे डॉक्टर नहीं पहुँचे, अन्य मरीज भी भटकते रहे। नाराज लोगों ने शव को हाथ ठेले पर रखकर कस्बे में घुमाया । कुछ देर के लिए चक्काजाम भी कर दिया। तहसीलदार अभिनव शर्मा और पुलिस की समझाईश के बाद प्रदर्शन खत्म हुआ। तहसीलदार के अनुसार प्रथम दृष्ट्या लापरवाही हुई है । जांच के निर्देश दिये है।

Spread the love

Leave a Comment