Share

अब भारत में ‘अभिनंदन’, पाकिस्तान ने वाघा बॉर्डर पर सौंपा

नई दिल्ली। भारतीय कूटनीति और सख्‍त तेवर के आगे झुकते हुए पाकिस्तान ने गुरुवार को भारतीय पायलट विंग कमांडर अभिनंदन को छोड़ने का ऐलान किया है। उनके स्वागत के लिए भारतीय वायुसेना के अधिकारी और संपूर्ण भारत खड़ा है अभिनंदन को वहां से अमृतसर लाया जाएगा।

  • पाकिस्तान ने वाघा बॉर्डर पर विंग कमांडर अभिनंदन को भारत को सौंपा।
  • वाघा पहुंचे अभिनंदन, भारत को सौंपने की प्रक्रिया जारी।
  • वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारी भी वाघा पहुंचे।

एयर वाइस मार्शल अभिनंदन को रिसीव करें

सेना की चार गाड़ियां वाघा बॉर्डर पहुंची। अभिनंदन को रिसिव करने अधिकारी पहुंचे।

अभिनंदन का परिवार भी वाघा बॉर्डर पहुंचा।

जांबाज विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की वापसी को लेकर पूरे देश में खुशी की लहर है। वाघा-अटारी बॉर्डर पर सुबह से ही लोगों की भीड़ जुटना शुरू हो गई है। लोगों हाथों में तिरंगा लेकर बॉर्डर पर अभिनंदन की एक झलक की आस में पहंचे हैं। अटारी बॉर्डर पर भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारे सुनाई दे रहे हैं।

-विंग कमांडर अभिनंदन की सुरक्षा के मद्देनजर आम लोगों और मीडिया को वाघा बबॉर्डर से बाहर रखा गया है।

-विंग कमांडर अभिनंदन की वापसी के चलते वाघा सीमा पर आज नहीं होगी वीटिंग रिट्रीट।

  • चेन्नई से दिल्ली जा रहा एक विमान जब आधी रात के बाद गंतव्य पर रुका तो किसी को बैग निकालने या बाहर जाने की जल्दबाजी नहीं थी क्योंकि सभी की निगाहें भारतीय वायु सेना के पायलट अभिनंदन वर्तमान के माता-पिता पर टिकी हुई थीं। एयर मार्शल (सेवानिवृत्त) एस वर्धमान और डॉ. शोभा वर्धमान के सम्मान में शुक्रवार तड़के विमान में सवार यात्रियों ने खड़े होकर तालियां बजाई और उन्हें पहले उतरने दिया।
  • चीन ने भारत-पाकिस्तान के बीच तनावपूर्ण हालात के मद्देनजर पाकिस्तान जाने वाली और वहां से आने वाली सभी उड़ानों को रद्द कर दिया। वहीं, पाकिस्तानी वायुक्षेत्र से गुजरने वाली अपनी सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के मार्ग में बदलाव किया है। यहां की सरकारी मीडिया ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

-इस्लामाबाद से लाहौर की दूरी करीब 375 किलोमीटर है।
-इस्लामाबाद से लाहौर के लिए रवाना हुए विंग कमांडर अभिनंदन।
-अभिनंदन के लिए वाघा बॉर्डर पर भव्य अभिनंदन की तैयारी।

-तमिलनाडु के चेन्नई में कलिकांबल मंदिर में शुक्रवार को विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की रिहाई की घोषणा के बाद धन्यवाद प्रार्थना की गई।

सूत्रों के मुताबिक भारतीय वायुसेना के अधिकारियों की एक टीम शुक्रवार शाम में वाघा सीमा पर विंग कमांडर अभिनंदन को लेने जाएगी। हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि पाकिस्तान अभिनंदन को अंतरराष्ट्रीय रेड क्रॉस को सौंपेगा या भारतीय अधिकारियों को। कहा जा रहा है कि इस्लामाबाद में भारतीय ग्रुप कैप्टन जेडी कुरियन अभिनंदन को लेकर आएंगे।

-पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह समेत वायुसेना के बड़े अधिकारी और मोदी सरकार के कई मंत्री भी बाघा बॉर्डर पर अभिनंदन का स्वागत करेंगे। इससे पहले अमरिंदर सिंह ने ट्विटर पर लिखा, मैं पंजाब के सीमावर्ती क्षेत्रों का दौरा कर रहा हूं और मैं वर्तमान में अमृतसर में हूं। पता चला कि पाकिस्तान सरकार ने वाघा से अभिनंदन को भेजने का फैसला किया है। यह मेरे लिए सम्मान की बात होगी कि मैं उसके स्वागत में वहां रहूं और उसे रिसीव करूं, क्योंकि वह और उसके पिता एनडीए के पूर्व छात्र हैं।

इससे पहले भारत ने दो टूक कह दिया था कि उसे अपने पायलट की रिहाई से कम कुछ भी मंजूर नहीं। दूसरी ओर भारतीय वायुसेना ने कहा कि उसे खुशी है कि पाकिस्तान द्वारा पकड़े गए विंग कमांडर अभिनंदन शुक्रवार को घर लौटेंगे और इसे सद्भाव के संदेश के रूप में पेश किए जाने को खारिज किया, साथ ही जोर दिया कि यह जिनीवा संधि के अनुरूप है।

पाक की हिरासत से अभिनंदन को छुड़ाने के लिए सरकार और एजेंसियां चौतरफा कोशिश कर रही थीं। सूत्रों ने बताया कि विदेश मंत्रालय जहां दुनिया के देशों से इस मुद्दे पर संपर्क साथ कर जनमत तैयार कर रहा था। साथ ही मंत्रालय ने दो टूक कह दिया था कि वह अभिनंदन के लिए राजनयिक पहुंच नहीं मांगेगा। भारत ने साफ कर दिया कि उसे अभिनंदन की सुरक्षित वापसी से कम कुछ भी मंजूर नहीं है। पाकिस्तान को स्पष्ट संदेश दिया गया था कि अगर अभिनंदन को कुछ होता है या उनको यातना दी जाती है तो भारत किसी भी स्तर पर जाकर कार्रवाई कर सकता है। इसके साथ ही भारत सैन्य विकल्पों को भी मजबूत कर रहा था।
उल्लेखनीय है कि पाक संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि भारतीय पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान हमारे सेना के हिरासत में हैं। उन्होंने कहा कि शांति की पहल के तौर पर शुक्रवार को अभिनंदन को भारत भेज दिया जाएगा। उनके इस फैसले का पाक सांसदों ने मेजे थपथपाकर स्वागत किया।
इमरान ने संसद में घुड़की देने से भी बाज नहीं आए। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के इस कदम को भारत उसकी कमजोरी नहीं समझे। उन्होंने कहा कि भारतीय सीमा में हवाई घुसपैठ का मकसद केवल अपनी क्षमता को प्रदर्शित करना था। पाक प्रधानमंत्री ने कहा, उन्होंने कई बार भारत से बातचीत की कोशिश की। लेकिन नई दिल्ली का जवाब उत्साहजनक नहीं था।

इमरान के ऐलान से पहले ही भारत के दबाव का असर दिखने लगा था। पाकिस्तान के विदेशमंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इमरान के ऐलान से दो घंटे पहले बयान दिया कि तनाव कम करने के लिए उनका देश अभिनंदन को रिहा करने पर विचार कर सकता है। उन्होंने कहा कि इमरान खान बिना शर्त प्रधानमंत्री मोदी से फोन पर बातचीत करने को तैयार है। वहीं पाक विदेश मंत्रालय ने भी अभिनंदन के स्वस्थ्य और सुरक्षित होने की सूचना दी।
गौरतलब है कि 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आत्मघाती आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। इसी के तेरह दिन बाद जवाबी कार्रवाई करते हुए भारत ने पाकिस्तान के अंदर घुसकर एयर स्ट्राइक करते हुए जैश के आतंकी अड्डों को ध्वस्त कर दिया था। इसके बाद पाकिस्तान ने भी एयरस्ट्राइक की कोशिश की, लेकिन भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के विमानों को खदेड़ दिया और एक विमान को मार गिराया। इस दौरान हमारा मिग-21 भी दुर्घटनाग्रस्त हो गया और विंग कमांडर अभिनंदन पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में सुरक्षित उतर गए। इसके बाद पाकिस्तान आर्मी ने उन्हें बंदी बना लिया।

Spread the love

Leave a Comment